राजनीति

लालू के गले के फांस बन गये उनके अपने ही लाल

पिछले कई दिनों से बिहार की राजनीति मे भारी उथल-पुथल मची हुई है युं तो ये उथल-पुथल हमेशा ही मची रहती है लेकिन इस उथल-पुथल मे एक युवा नेता जिसके कैरियर ने तो अभी खुल कर सांस भी नही ली है और उसके कैरियर पर तलवार लटकती नजर आ रही है ।

जी हां मै बात कर रहा हुं बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की जिनसे उप मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा मांगा गया है हांलाकि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुलकर तेजस्वी यादव से उनका इस्तीफा तो नही मांगा है लेकिन इसका संकेत जरुर दे दिया है । वहीं मंगलवार को JDU की  बैठक की रिपोर्ट के मुताबिक तेजस्वी यादव को चार दिनों की मोहलत भी दी गयी है तो साफ है कि तेजस्वी यादव पर तलवार लटकेगी हीं ।

तेजस्वी यादव से इस्तीफा इस लिए मांगा गया है क्योंकि उन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा है । आप को बता दें कि 2006 मे रेलवे के होटलों के टेंडर देने के मामले मे CBI ने कार्रवाई करते हुए 5 जुलाई को लालू प्रसाद यादव उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटे तेजस्वी यादव के खिलाफ FIR दर्ज की थी तभी से तेजस्वी यादव से उनका इस्तीफा मांगने की कवायत तेज हो गई लेकिन JDU के बैठक के बाद RJD के विधायक दल के बैठक मे यह साफ कर दिया गया कि तेजस्वी यादव इस्तीफा नही देंगे तो ऐसे मे देखना दिलचस्प होगा कि सुसासन बाबू चार दिनों के बाद क्या एक्सन लेते है

वहीं दुसरी तरफ लालू यादव का कहना है कि बीजेपी हमारी राजनीतिक बदला हमारे पत्नी और बेटे से ले रही है साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी कम से कम हमारे बच्चों को तो छोड़ दे क्योंकि वो अभी बच्चे है तो अगर वाकई मे तेजस्वी यादव को बीजेपी फंसाना चाहती है तो नीतीश कुमार अपने सहयोगी के पक्ष मे क्यों नही खड़े हो रहे है ? क्या नीतीश कुमार BJP जैसी अन्य विकल्प तलाश रहे हैं ? और क्या नीतीश कुमार की चुप्पी गठबंधन पर भारी पड़ने वाली है ?

सुसासन बाबू की यह चुप्पी RJD के गले की फांस बनती जा रही है फांस बने भी क्यों न BJP की तरफ से लगातार कहा जा रहा है कि हम आपकी सरकार को गिरने नहीं देंगे BJP ने तो यहां तक कह दिया गया कि JDU के विधायक ही उनके मंत्रीमंडल मे रहेंगे  हम बाहरी समर्थन करेंगे तो ये JDU के  लिए सोने पे सुहागा ऑफर है और भला कुछ गवांए सब कुछ मिल जाए तो किसे इसका आनंद नही आएगा  और बिहार के सत्ता से बाहर हो चुकी BJP के लिए तो ये गोल्डेन ऑफर है और इस ऑफर को BJP भी अपने हाथ से कैसे जाने दे सकती है तो कुल मिलाकर तलवार लालू और लालू के लाल पर ही लटकती नजर आ रही है ।

 

Facebook Comments
Rahul Tiwari
युवा पत्रकार
http://thenationfirst.in

Leave a Reply