देश विचार

देश की आत्मा का आत्मदाह !

अगर बात पूरे विश्व की करें तो मात्र भारत ही एक ऐसा देश है जहां की सबसे अधिक अबादी गांवो मे बसती है. और कहा भी जाता है कि गांव देश का शरीर होता है  और वहां के किसान उसकी आत्मा लेकिन एक सामान्य सा सवाल है कि अगर आत्मा ही ना रहे तो उस […]

122 total views, no views today

विचार

कभी शिक्षा से गौरव कमाने वाला यह राज्य आज अपनी थू थू करवा रहा है

सत्ता के झरोखे से दुनिया को आईना दिखाने वाला बिहार को गर्त में ले जाने वाले इन दल-बदलू नेताओं की तस्वीर को आईना के सामने नर्तन करवा के क्या फायदा ? कहा जाता है की किसी भी चीज को विकसित करने के लिए शिक्षा का होना बहुत ही आवश्यक है लेकिन ये क्या 21वी सदी […]

125 total views, no views today

विचार

किसी भी रेप के लिए लड़कियां ही जिम्मेदार…???

कल मैंने फेसबुक पर एक पोस्ट निर्भया कांड पर सुप्रीम  कोर्ट में हुई सुनवाई को लेकर पढ़ा। दोस्तों सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान एक लड़की के लिए किस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया गया..  क्या आप जानते हैं ?  आइए हम आपको बताते हैं.. वैसे तो सुप्रीम कोर्ट ने चारो आरोपियों पवन,मुकेश, विनय […]

131 total views, no views today

देश विचार

बातें मत हांकिए अपनी सोंच बदलिए साहब

भारतीय समाज एक ऐसा समाज है जहां महिलाओं को आदि-काल से ही अपने घर की लक्ष्मी के रुप मे देखा जाता है और कभी दुर्गा के रुप मे तो कभी सरस्वती के रुप मे उसकी पुजा की जाती है , संस्कृत मे एक श्लोक  है ‘यस्य पुज्यंते नार्यस्तु तत्र रमंते देवता:’ जिसका अर्थ है जहां […]

79 total views, no views today

जुर्म देश विचार

रेड लाईट पर भारत का भविष्य

भारत एक ऐसा देश है जहां भीक्षावृत्ति का गोरख धंधा सबसे ज्यादा चलाया जाता है और इस गोरख धंधे में सबसे ज्यादा पिसती है मासुम जिंदगीयां जिसका प्रमान  मंदिर, मस्जिद , रेड लाईट और अन्य सार्वजनिक स्थानों पर देखने को मिलता है और चंद बाबू लोग चंद पैसे देकर जो प्राउड फिल करते है वो […]

249 total views, no views today

जुर्म विचार

दलालों के हाथों तिलता देश का भविष्य

चाइल्ड बेगर इन इंडिया . अगर कोई बच्चा भीख मांगता हुआ दिखे तो आपको कैसा प्रतीत होगा , आये दिन हम लोग मेट्रो , रेलवे स्टेशन,मंडी और ना जाने कँहा-कहाँ बच्चो को भीख मांगते हुए देख लेते है. यह भी पढ़ें : रेड लाईट पर भारत का भविष्य कभी आपने सोचा कि  ये बच्चें इतने छोटे […]

271 total views, no views today

देश राजनीति विचार

कब तक सेकोगे राम- बाबरी पर रोटी ?

अयोध्या विवाद एक ऐसा विवाद है जो राजनीतिक, ऐतिहासिक और समाजिक- धार्मिक भावनाओं से उभरा है , इस विवाद का जन्म 6 दिसम्वर 1992 को ही हो चुका था । इस विवाद का मुख्य कारण है दो समुदायों की आस्था और जब हमारे देश मे बात आस्था कि होती है तो कोई अपना सर कलम […]

238 total views, no views today