इतिहास के पन्नों से

जब पहली बार सुभाष चन्द्र बोस को पुकारा गया था इस मुस्लिम नाम से

जब भारत अंग्रेजी हुकूमत का गुलाम था तो उस समय कई ऐसे क्रांतिकारी थे जो अपने-अपने तरीकों से भारत को स्वतंत्र करने की कोशिश कर रहे थे । उन्ही स्वतंत्रता सेनानियों में महात्मा गांधी और सुभाष चंद्र बोस का नाम भी शुमार है । लेकिन अगर इन दोनों नेताओं के आपसी संबंधों की बात करें […]

1,472 total views, no views today

इतिहास के पन्नों से

हमारे धर्मशास्त्र के कुछ छंदों के साथ यह साहित्यकार कर चुका है खिलवाड़

बात अगर भारतीय संस्कृति और उसके धरोहरों की करें तो शायद कोई भी ऐसा देश नही है जो हमारे देश की संस्कृति और धार्मिक गुणवत्ता को अपने देश के नागरिकों में समाहित करना न चाहता हो लेकिन जब कोई विदेशी व्यक्ति हमारे धरोहर और संस्कृति से खिलवाड़ करे तो शायद हम भारतीयों को ये  बिल्कुल […]

119 total views, no views today

इतिहास के पन्नों से

कभी हिन्दू मुस्लिम एकता की बात करनें वाला यह व्यक्ति कर दी थी पाकिस्तान बनाने की मांग

भारत एक ऐसा देश है जहां जातिवाद और साम्प्रदायिकता को अगर कोई थोड़ा सा भी हवा दे तो यह आग पूरे कुनबे को खुद में समेटने में ज़रा सा भी देर नही लगाती और इसी आग को भारत की आजादी से पूर्व लगाया गया जिसकी खामियाजा आज तक भारत चुका रहा है और यहां के […]

152 total views, no views today

इतिहास के पन्नों से

हिंदुस्तान का वो नेता जो चाहता था भारत हमेशा अंग्रेजी हुकूमत का गुलाम रहे

भारत मे लगभग सारे भारतीय अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ थे और उन्हें अपने देश से उन्हें बाहर निकलने की अथक प्रयास कर रहे थे हम सभी चाहते थे कि हमारे देश से अंग्रेज चले जाएं ताकि हमारे देश की जनता उनके शोषण नीति से मुक्त हो जाये और शोषण नीति से मुक्त करवाने के लिए […]

495 total views, no views today

इतिहास के पन्नों से

जब अटल जी ने कलाम साहब से कहा था ‘पहली बार कुछ मांग रहा हूं मना मत कीजियेगा’

भारतीय राजनीति में बहुत एसे अनकहीं और अनसुने किस्से हैं जो बेहद ही रोचक और मार्मिक है लेकिन उनमें से  कम ही एसे किस्से होते हैं जिसे सुनकर आपका और हमारा उस राजनेता के प्रति आदर और सम्मान बढ़ जाता हो । आज हम भारतीय राजनीति के एसे ही दो युगपुरूष भारत के 10वें प्रधानमंत्री […]

1,204 total views, no views today

इतिहास के पन्नों से

जब कलाम साहब ने स्पेशल गेस्ट के तौर पे एक मोची को बुलाया था

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम यानि एक ऐसे व्यक्ति जो वाकई में कमाल के थे आज कलाम साहब का पूण्यतिथि तिथि है आज ही के दिन यानि 27 जुलाई 2015 की शाम अब्दुल कलाम भारतीय प्रबंधन संस्थान शिलोंग में ‘रहने योग्य ग्रह’ पर एक व्याख्यान दे रहे थे जब उन्हें जोरदार कार्डियक अरेस्ट (दिल का दौरा) […]

220 total views, no views today

इतिहास के पन्नों से दुनिया देश

एक ऐसा हीरा जो भर सकता है दो दिनो तक पूरे विश्व का पेट

हीरा का नाम तो आप सबों ने सुना ही होगा और इसकी चाहत तो हम सभी को होगी ही ।कहा जाता है कि हीरे की चमक को हर कोई बर्दास्त नही कर सकता क्योंकि उसकी चमके के आगे अच्छे अच्छों की आंखे चोंधीया जाती है । अगर आप के हाथ एक ऐसा हीरा लग जाए […]

190 total views, no views today