जरा हट के

एक लड्डू जो बदल देगी आपकी किस्मत ,लाखों में लगती है इसकी बोली

लड्डू खाना तो हर किसी को पसंद होता है लेकिन क्या आप ने कभी सोंचा है कि एक लड्डू आप के जीवन मे बहुत बड़ा बदलाव ला सकता है । कल्पना किजीये की आप के हाथ एक ऐसा लड्डू लग जाये जो आपके और आपके चाहने वालों का कायापलट कर दे अर्थात आपको अमीर बना दे । तो आप बोलेंगे कि क्या मज़ाक है एक लड्डू से तो पेट नही भरता और उससे आदमी अमीर कैसे बन सकता है ये बिल्कुल इम्पॉसिबल है तो मैं कहूंगा कि ये बिल्कुल पॉसिबल है ।

खैर छोड़िए अब दूसरी बात ये सोचिए कि क्या एक लड्डू की कीमत 15 लाख रुपये से भी ज़्यादा हो सकती है तो आप बोलेंगे ये भी मज़ाक ही है तो मैं आप को बता दूं कि मैं बिल्कुल भी मज़ाक नही कर रहा हूँ दोनों ही बातें बिल्कुल सही हैं एक लड्डू आप की किस्मत भी बदल सकती है और इसकी कीमत लाखों रुपये से भी ज़्यादा हो सकती है ।

हैदराबाद के सुप्रसिद्ध बालापुर में एक गणेश जी का मंदिर है जहां हर वर्ष लाखो रुपये की एक लड्डू बनाई जाती है जिसका वजन 21 किलोग्राम होता है । कहा जाता है कि इस लड्डू की बोली हर साल लगाई जाती है । इस प्रथा को 2 दशक पहले शुरु किया गया था और 1994 में पहली बार लड्डू की नीलामी की गई जिसकी बोली 450 रुपये लगाई गई थी जिसे एक किसान ने खरीदा था और उसकी कायापलट हो गई ।

कहा जाता है कि इस लड्डू को कोलन मोहन रेड्डी नामक एक किसान ने 450 रुपये में खरीदा और उसके जीवन मे ज़बरदस्त बदलाव आया । किसान ने लड्डू को अपने परिवार और आसपास के लोगों में बाट दिया और बाकी के बचे लड्डू को अपने खेत मे बिखेर दिया जिसके बाद उसके खेत मे ज़बरदस्त पैदावार हुई और उसने 23 साल में 5 बार इस लड्डू की बोली लगाई थी ।

वही इस लड्डू की बोली पिछले साल 14 लाख 95 हजार की लगी थी तो इस साल इस लड्डू की बोली 15 लाख 60 हजार रुपये लगाई गई और इस लड्डू की बोली जुलूस शुरु होने से पहले लगाई जाती जिसमें बोली लगने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ भी लाखों मे होती है इस से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि इस एक लड्डू की प्रसिद्धि और महिमा कितनी है जिसे खरीदने के लिए श्रद्धालुओं की भाडी भीड़ लगती है वैसे तो लड्डू का इतिहास को बिहार समेटता है कहा जाता है कि बिहार के पटना जिला के मनेर प्रखंड का जो लड्डू होता है वो विश्व मे प्रसिद्ध है जहां अलग अलग तरह की लड्डू मिलती है और खास बात यह होता है कि यहां लड्डू की कीमत 40 रुपये से लेकर 12 सौ से भी ज्यादा होती है.

अगर आप चॉकलेट नही खातें तो खाना शुरू कर दें, इन बीमारियों के अटैक से बच सकतें हैं 

बड़े काम की है खिचड़ी, इसी खिचड़ी ने जलाई थी चन्द्रगुप्त मौर्य के दिमाग की बत्ती

 

894 total views, 30 views today

Facebook Comments
Rahul Tiwari

युवा पत्रकार

http://thenationfirst.in

Leave a Reply