खेल

मुंबई इंडियन्स का IPL सफर, ZERO से हीरो बनने तक की पूरी कहानी

ईपीएल टी20 टूर्नामेंट शुरू होनें में महज कुछ दिन बाकी हैं. 7 अप्रैल से शुरू होगा टी20 क्रिकेट का महाकुंभ, जब मुंबई इंडियन्स अपनें होम ग्राउंड वानखेड़े में चिर प्रतिद्वंदी धोनी की चेन्नई सुपरकिंग का सामना करेगी.जिस शहर नें सचिन, गावस्कर से लेकर रोहित, रहाणे और पृथ्वी शॉ जैसे खिलाड़ी दिए हों, उसकी आईपीएल टीम की लोकप्रियता कितनी होगी, अंदाज लगा सकते हैं.2008 में जब बीसीसीआई नें आईपीएल नाम के इस मनोरंजन को जन्म दिया तो मुंबई इंडियन्स की टीम को मुकेश अंबानी नें 112 मिलियन डॉलर में खरीदा.

सचिन तेंदुलकर को आईकन बनाया गया और टीम में हरभजन, मलिंगा, शॉन पोलाक और रॉबिन उथप्पा जैसे खिलाड़ी जोड़ें, लालचंद राजपूत  को कोच बनाया गया लेकीन शायद पहला संस्करण मुंबई के लिए नहीं था टीम नें हार के साथ शुरूआत की, आरसीबी के खिलाफ.  सचिन शुरू में हीं बिना खेले चोटिल हो गए,  नए कप्तान बनें हरभजन सिंह… लेकिन भज्जी भी श्रीसंत को थप्पड़ मारनें के कारण सस्पेंड हो गए, तब कप्तानी मिली शॉन पोलीक को., लगातार सात मैच जिताया अपनी कप्तानी में उन्होनें लेकिन अंत में कुछ नजदीकी मैच हारकर मुंबई पाँचवे नंबर पर रही

2009 में जहीर खान, शिखर धवन, जेपी डुमिनी को जोड़ा लेकिन इस बार टीम सातवें नंबर पर रही… लेकिन 2010 वह साल रहा जहाँ से इस टीम की किस्मत पलटी.रॉबिन सिंह को कोच बनाया गया, पोलाक बॉलिंग कोच रहे..  पोलार्ड के लिए रिकॉर्ड कीमत दी.रायुडू, सौरभ तिवारी जैसे खिलाड़ी भी जुड़े.  इस साल टीम नें फाइनल तक प्रवेश किया जहाँ सीएसके से 22 रनों से हार मिली. सचिन नें 618 बनाकर ऑरेंज कैप ले लिया!.. 2011 में रोहित शर्मा, एंड्रयू साइमंड्स और मुनाफ पटेल को मुंबई नें खरीदा, दाँव सही भी रहा.. टीम शुरू में संघर्ष की लेकिन बाद में लय पकड़ ली, एलिमिनेटर में भी केकेआर को हराया लेकिन आरसीबी से क्वालीफायर हार गई, हालांकि इसी वर्ष टीम नें चैंपियंस लीग का खिताब जीता.

2012 में टीम नें दिनेश कार्तिक, आरपी सिंह, परेरा, जॉनसन और प्रज्ञान ओझा को टीम में लिया लेकिन सचिन ने कप्तानी छोड़ दी, हरभजन कप्तान बनें, जॉनसन सचिन , ड्वेन स्मिथ को टीम से जोड़ा गयी.. टीम नें दस जीत के साथ तीसरा स्थान प्राप्त किया लेकिन एलिमिनेटर में चेन्नै से हार गई…2013 में रोहित शर्मा को कप्तानी मिली और मुंबई इस बार विजेता बनकर उभरी. 2014 में खिताब की रक्षा करनें में रोहित की मुंबई इंडियंस  नाकाम रही. फिर 2015 में एक बार फिर इंडियंस नें चैन्नै सुपरकिंग्स का काम तमाम किया फाइनल में… और फिर 2017 में धोनी की कप्तानी वाली राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स को हराकर मुंबई इंडियंस नें तीसरी बार खिताब जीतनें वाली पहली टीम बननें का कारनामा किया.

आईपीएल 2018 में टीम कंबिनेशन और  उससे फैंस की उम्मीद:-

एविन लुईस के रूप में धाकड़ टी20 ओपनर टीम में है जिसका साथ देंगे ‘बिहार के लाल’ ईशान किशन. उसके बाद मिडिल ऑर्डर में रोहित शर्मा, केकेआर से आए सूर्यकुमार यादव,फिर क्रुनल पांड्या,किरोन पोलार्ड,और  हार्दिक पांड्या. इसके बाद स्पिनर की जिम्मेदारी लेनें वाला कोई अनुभवी चेहरा नहीं होना परेशानी का सबब है.दीपक चाहर के रूप में एकमात्र लेग स्पिनर टीम में है जिसे जगह मिलनी तय है. लेकिन जिस दिन पांड्या भाइयों में से कोई भी गेंदबाजी में पीट गया, मुंबई के लिए मुश्किल खड़ी हो जायेगी. तेज गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह नाम हीं काफी है, लेकिन उनका साथ देनें वाला इंडियन बॉलर नजर नहीं आ रहा. लेकिन टीम के पास पैट कमिंस और मुस्ताफिजुर रहमान के रूप में दो बेहतरीन तेज गेंदबाज मौजूद हैं.. बैकअप तेजगेंदबाज बेहरनडॉर्फ हैं वहीं बैटिंग में जेपी डुमिनी है जिसे आप इग्नोर नहीं कर सकते लेकिन टीम में उनकी जगह तभी बनेगी जब लुईस या पोलार्ड में से कोई नहीं खेल पाता है. मुंबई की टीम में दम है लेकिन एक परफेक्ट कंबिनेशन तलाशना चुनौती होगी….

जिस टीम के सपोर्टिंग स्टाफ में सचिन तेंदुलकर, लसिथ मलिंगा, रोबिन सिंह, जॉन राइट, शेन बॉंड जैसे महान शख्सियतें हो, उस टीम से खिताब की उम्मीद रखना बिल्कुल गलत नहीं है…… अगले एपिसोड में हम किसी और टीम की चर्चा करेंगे, हमारे साथ जुड़े.. Thenationfirst.Com के Youtube चैनल को सब्सक्राइब करें, शेयर करें और फेसबुक पेज को लाइक करें

8,207 total views, 1 views today

Facebook Comments
Ankush M Thakur
Alrounder, A pure Indian, Young Journalist, Sports lover, Sports and political commentator
http://thenationfrst.in

Leave a Reply