खेल

IPL 2018: कभी फाइनल तक ना पहुँचने वाली टीम का टैग धोने उतरेंगे दिल्ली के डेयरडेविल्स

दिल्ली डेयरडेविल्स का पहले सीजन से टीम एंथम था ‘प्ले ऑन फ्रंटफुट’… टीम लगातार फ्रंटफुट पर खेलनें में हर बार स्टंप होती गई. जीएमआर ग्रुप की टीम दिल्ली डेयडेविल्स नें अपनें साथ हमेशा बड़े नामों को जोड़ा लेकिन ‘नाम बड़े और दर्शन छोटे’ वाली कहावत सच हुई. यह आईपीएल की एकमात्र ऐसी ‘रेगुलर’ टीम है जो एक भी बार फाइनल में नहीं पहुँची है. 2008 और 2009 में पहले दो साल सहवाग, डिविलियर्स, गंभीर, विटोरी जैसे नाम टीम में मौजूद थे,डीडी उन दोनों साल सेमीफाइनल तक पहुँची.

उसके बाद 2010 में 8 टीमों के बीच पाँचवें नंबर रही, जबकि 2011 में नौ टीमों में 9वें नंबर पर. 2012 सीजन अच्छा गया, टीम प्लेऑफ तक पहुँची. 2013 2014 में एकबार फिर धड़ाम से नीचे गिरी और अंतिम नंबर पर रही. 2015 में 7वें, 2016 में 6ठे और 2017 में भी 6ठे नंबर से संतोष करना पड़ा. सभी सीजन दिल्ली नें अच्छे प्लेयर चुनें लेकिन इसे दुर्भाग्य कहें, या कुछ और, टीम में कभी निरंतरता नहीं रही.

2018 सीजन में भी दिल्ली डेयरडेविल्स के पास अच्छी टीम है लेकिन उससे बड़ी बात, कि इस टीम को अच्छा करके भी दिखाना होगा. इस बार दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम अनुभवी गौतम गंभीर के कप्तानी में ,रिकी पोंटिंग जैसे कोच के मार्गदर्शन में उतर रही है. गंभीर से दिल्ली की उम्मीद इसलिए भी है कि उन्होनें कोलकता नाइटराइडर्स को जमीन से आसमान तक पहुँचाया है. उनसे वैसे चमत्कार की उम्मीद एक बार फिर है.

दिल्ली की टीम विजय शंकर, श्रेयस अय्यर, रिषभ पंत, रबाडा, पृथ्वी शॉ, संदीप लेमिचेन,अभिषेक शर्मा युवा खिलाड़ियों से भरी हुई है. क्रिस मोरिस, कोलिन मुनरो, जेसन रॉय, ट्रेंट बोल्ट के रूप मे बेहतरीन फॉरेन प्लेयर्स भी हैं. एक जगह के लिए कई विकल्प हैं लेकिन शमी के अलावा भारतीय पेसर में आवेश खान हीं दिख रहे हैं. अब सबसे अहम यह है की टीम की टॉप 11 क्या होगी. कप्तान गौतम गंभीर के साथ कोलिन मुनरो ओपनिंग करेंगे, मुनरों के न रहनें की स्थिति में जेसन रॉय ओपनिंग कर सकते हैं.

तीसरे नंबर पर रिषभ पंत, वहीं चौथे पर श्रेयस अय्यर नजर आयेंगे. पाँचवा नंबर ग्लेन मैक्सेवल का है लेकिन चूँकि वह कुछ मैचों में नहीं उपलब्ध होंगे तो उनकी जगह डेनियल क्रिस्चि़यन को जगह मिलेगी. उसके बाद टीम में दो ऑलराउंडर हैं, क्रिस मोरिस और विजय शंकर. लेफ्ट आर्मर शाहबाज नदीम और लेग स्पिनर अमित मिश्रा के रूप में दो स्पिनर पहले से मौजूद है. कागिसो रबाडा चोट के कारण बाहर हो चुके हैं. ऐसे में ट्रेंट बोल्ट का जगह फिक्स है. एक भारतीय पेसर के रूप में मोहम्मद शमी टीम में होंगे. दिल्ली की टीम बेहद संतुलित है लेकिन असल परीक्षा मैदान पर होगी.

संभावित एकादश:

गौतम गंभीर, कोलिन मुनरो/ जेसन रॉय, रिषभ पंत, श्रेयस अय्यर, ग्लेन मैक्सवेल/क्रिस्टियन, क्रिस मोरिस, विजय शंकर, अमित मिश्रा, शाहबाद नदीम, ट्रेंट बोल्ट, मोहम्मद शमी

यह भी पढ़ेंIPL2018: तीन बार फाइनल तक पहुँची आरसीबी को पहली बार ट्रॉफी जीतनें की उम्मीद

विश्लेषण: चोटिल खिलाड़ियों से भरी केकेआर बाकी टीमों के मुकाबले है कमजोर

एक ऐसी आईपीएल टीम जो आजतक कभी सेमीफाइनल से पहले रूकी हीं नहीं!

मुंबई इंडियन्स का IPL सफर, ZERO से हीरो बनने तक की पूरी कहानी

3,940 total views, 1 views today

Facebook Comments
Ankush M Thakur
Alrounder, A pure Indian, Young Journalist, Sports lover, Sports and political commentator
http://thenationfrst.in

Leave a Reply